Connect with us

कार्रवाई: म्यांमार मे फंसे युवक को भेजनें वाले गुजरात के एजेंट पर मुकदमा…

उत्तराखंड

कार्रवाई: म्यांमार मे फंसे युवक को भेजनें वाले गुजरात के एजेंट पर मुकदमा…

ऋषिकेश। तीर्थ नगरी के रायवाला प्रतीतनगर निवासी युवक विधान गौतम को थाईलैंड में आईटी कंपनी में अच्छी नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी से म्यांमार ले जाने और फिर वहां बंधक बनाकर रखे जाने के मामले में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के एक्शन में आने के बाद जनपद पुलिस ने गुजरात निवासी एजेंट के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया है।

बता दे की बीते 28 मई को रायवाला प्रतीत नगर निवासी विधान गौतम ने आडियो जारी कर अपने परिवार वालों को इसकी सूचना दी थी। जिसके बाद क्षेत्रीय विधायक और कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रव परिवार के सदस्यों से मिले थे और उसके बाद कैबिनेट मंत्री अग्रवाल व मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को इसकी जानकारी दे कर मदद की गुहार लगाई।

थाना रायवाला के प्रभारी निरीक्षक देवेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि मामले में विधान की बहन जया गौतम ने तहरीर दी है। जिसमें बताया गया है कि विधान गौतम आईटी सेक्टर में काम करने के लिए मार्च 2024 मे दुबई गया था, दुबई में उसके साथ सात अन्य भारतीय लडके भी काम करते थे, जो सभी माह मई 2024 में घर वापस आ गये। बीते माह 19 मई को गुजरात निवासी एजेंट जय जोशी ने उसके भाई व अन्य भारतीय लडकों को थाइलैण्ड में बडी आईटी कंपनी में नौकरी दिलाने व अच्छी सैलरी दिये जाने की बात कही। जय जोशी ने उसके भाई व उसके दोस्तों के साथ वीडियो काल के माध्यम से स्क्रीनिंग टेस्ट भी लिया।

यह भी बताया कि भारत से थाइलैण्ड जाने का सारा खर्चा व सुविधाएं कंपनी उपलब्ध कराएगी। फिर 21 मई को दिल्ली से बैंकाक थाईलैंड तक के टिकट बुक करवा कर दिए। तय तिथि पर विधान गौतम घर से निकल कर दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचा, जहां उसे उसके अन्य सात साथी जय जोशी के साथ एयरपोर्ट पर मिले। जहां से जय जोशी इन सबको लेकर दिव से बैंकाक, थाईलैंड पहुंचा। लेकिन उसके बाद विधान से कोई संपर्क नहीं हो सका। जय जोशी से से पूछने पर वह विधान के काम में व्यस्त होने की बात कहते हुए गुमराह करता रहा। 28 मई को अज्ञात व्हाट्सएप नंबर से विधान ने वोईस काल कर म्यामांर में बंधक बने होने की जानकारी दी। जहां पर करीब 70 भारतीय युवकों सहित अन्य देशों के कुल करीब 200 लोगों को बंधक बनाकर रखा गया है।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking: ऋषिकेश गंगा मे दिल्ली के युवक की डूबने से हो गईं मौत...

इन लोगों को इलेक्ट्रिक शाक जैसी अन्य प्रताडनाएं दी जा रही है। बधंक बनाये गये व्यक्तियों में लगभग 10 युवक उत्तराखण्ड के हैं जो खटीमा, देहरादून व अन्य स्थानों के रहने वाले हैं। इन लोगों से साइबर स्कैमिंग का काम कराए जाने का दबाव बनाया जा रहा है जो बात नहीं मानता, उसको मार दिया जाता है। प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक कंपनी के आरोपित एजेंट जय जोशी जोशी की गिरफ्तारी के लिए टीम रवाना की गई है।

Latest News -
Continue Reading
Advertisement
Advertisement

देश

देश
Advertisement
Advertisement

ट्रेंडिंग खबरें

To Top
0 Shares
Share via
Copy link